बलिया गोलीकांड : मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह अभी भी फरार, पुलिस की छापेमारी में पांच गिरफ्तार

Oct 16 2020

बलिया गोलीकांड : मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह अभी भी फरार, पुलिस की छापेमारी में पांच गिरफ्तार

लखनऊ। यूपी के बलिया गोलीकांड का आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह बीजेपी का कार्यकर्ता था। बता दे कि इस बात का खुलासा खुद बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने किया है। विधायक के अनुसार धीरेंद्र सिंह पार्टी का कार्यकर्ता था। यह घटनाक्रम दुखद है। घटना के समय उपस्थित सभी पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। इसके अलावा योगी सरकार की ओर से सभी आरोपियो के खिलाफ सख्त कार्रवाई का भरोसा दिया जा रहा है।


मुख्य आरोपी भाई देवेंद्र प्रताप सिंह समेत पांच गिरफ्तार

बलिया गोलीकांड में मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के भाई देवेंद्र प्रताप सिंह समेत 5 आरोपियों को बलिया पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह अभी भी फरार है, जिसे पकड़ने के लिए दर्जन भर पुलिस टीम छापेमारी कर रही है. इस बीच फैसला लिया गया है कि दुर्जनपुर गांव मे सभी असलहों का लाइसेंस निरस्त किया जायेगा


मृतक के भाई ने बताया पुलिस का हाथ

मृतक के भाई ने आरोप लगाया है कि वारदात के बाद पुलिस ने हत्याकांड को अंजाम देने वाले आरोपी को पकड़ लिया था लेकिन बाद में उसे भीड़ से बाहर ले जाकर छोड़ दिया। बता दें कि बलिया के रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर गांव में 15 अक्टूबर को दोपहर बाद पुलिस और जिला प्रशासन के आला अधिकारियों की मौजूदगी में एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वारदात उस वक्त हुई जब कोटा की दुकान के लिए एसडीएम और सीओ की मौजूदगी में गांव में खुली बैठक चल रही थी। इस मामले का मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह है जो अभी तक फरार है।


इस वारदात में गोली लगने से दुर्जनपुर पुरानी बस्ती निवासी 46 साल के जयप्रकाश उर्फ गामा पाल की इलाज के लिए ले जाते समय मौत हो गई। घटना में ईंट पत्थर और लाठी डंडे चलने से तीन महिलाओं सहित आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।