IPL 2020: धोनी को आया गुस्सा, फटाफट बदला अंपायर ने फैसला

Oct 14 2020

IPL 2020: धोनी को आया गुस्सा, फटाफट बदला अंपायर ने फैसला

नई दिल्ली: CSK Beats SRH: तीन बार की आईपीएल चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) ने करो या मरो के मुकाबले में साल 2016 की टाइटल विजेता टीम सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) को हरा कर प्ले ऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीद को जिंदा रखा है चेन्नई के लिए पहले सात मुकाबले बेहद खराब रहे थे क्योंकि माही आर्मी को पांच मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा था. दुबई में मिली इस जीत के साथ माही एंड कंपनी ने आईपीएल (IPL) में वापसी कर ली है लेकिन हमेशा मैदान पर शांत रहने वाले माही को इस मैच में गुस्सा करते हुए देख गया है.

चेन्नई सुपरकिंग्स ने 20 रनों से हैदराबाद को हरा दिया है जिसके बाद सीएसके की चारों तरफ तारीफ हो रही है वहीं माही का गुस्सा भी अब चर्चा का विषय बन गया है. चेन्नई और हैदराबाद के इस मैच में अंतिम पलों में अंपायर पॉल राइफल के फैसले को लेकर बड़ा विवाद खड़ा हो गया है. दरअसल, अंपायर ने गेंद को वाइड करारा नहीं दिया था लेकिन साफ देखा गया था वो गेंद वाइड थी. 18वें ओवर में हैदराबाद की टीम ने 19 रन बना डाले थे और टीम को दो ओवरों में 27 रनों की जरुरत थी. जिसके बाद 19वें ओवर की पहली गेंद पर राशिद खान ने दो रन बनाए और शार्दुल ठाकुर की अगली गेंद वाइड हो गई.

इसके बाद शार्दुल ठाकुर की अगली गेंद भी वाइड नजर आ रहा थी और अंपायन ने इशारा करने की कोशिश की लेकिन उसके बाद अपना फैसला बदल दिया. अंपायर ने जब वाइड करार करने के लिए इशारा करना शुरू ही किया था कि धोनी ने विकेट के पीछे से फैसले पर विरोध करना भी शुर कर दिया फिर क्या था. जिसके बाद अंपायर ने अपना फैसला बदल दिया. इस फैसले के बाद हैदराबाद की टीम में काफी नाराज नजर आई क्योंकि उनका मानना था कि वो गेंद वाइड थी और अंपायर ने अपना फैसला विरोध के बाद बदल दिया.

धोनी के इस बर्ताव के बाद कई क्रिकेट फैंस ने माही पर सवाल खड़े किए हैं, फैंस का मानना है कि विकेट के पीछे से कप्तान एम एस धोनी ने अंपायर पर दवाबा बनाया जिसके कारण उन्होंने अपना पैसला बदल दिया. ये पहला मौका नहीं है जब माही और अंपयार को लेकर मुद्दा बना हो. आईपीएल साल 2019 में भी माही और अंपायर की बहस देखने को मिली थी जब माही अंपायर के कुछ फैसलों से नाखुश होकर डग आउट से मैदान पर आ गए थे.

बता दें कि चेन्नई सुपरकिंग्स ने अभी तक आईपीएल में पहली बार टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया था और ये फैसला उनके फेवर में भी गया. माही एंड कंपनी ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर्स में 167 रन बनाए थे. लक्ष्य का पीछा करने उतरी डेविड वॉर्नर की सनराइजर्स हैदराबाद सिर्फ 140 रन ही बना सकी.अब सवाल ये है कि क्या माही का अंपायर का पर इस तरह से दबाव बनाना ठीक है ...क्या धोनी ये सब इसलिए कर रहे हैं कि चेन्नई सुपरकिंग्स की हालत इस वक्त आईपीएल में काफी बुरी जिसके चलते वो खुद पर काबू नहीं रख पा रहे हैं. इन सभी सवालों के जबाव आने वाले मुकाबलों में मिल जाएंगे क्योंकि माही को प्ले ऑफ में पहुंचने के लिए हर मुकाबले को जीतना है.