Nepotism का शिकार हो चुके हैं सैफ अली खान, परिवारवाद पर कही ये बात

Jul 02 2020

Nepotism का शिकार हो चुके हैं सैफ अली खान, परिवारवाद पर कही ये बात

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के सुसाइड के बाद से ही सोशल मीडिया पर लोग भाई-भतीजावाद यानी नेपोटिज्म के खिलाफ अपनी आवाज उठा रहे हैं. हाल ही में एक इंटरव्यू में बॉलीवुड के फेमस एक्टर सैफ अली खान (Saif Ali Khan) ने भी नेपोटिज्म के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की है. इस इंटरव्यू में सैफ अली खान (Saif Ali Khan) ने कहा कि वह भी एक समय में परिवारवाद का शिकार हो चुके हैं.

सैफ अली खान (Saif Ali Khan) ने कहा कि वो भी भाई-भतीजावाद यानी नेपोटिज्म (Nepotism) का शिकार हो चुके हैं लेकिन इसके बारे में कोई बात नहीं करता. भारत में असमानता है, जिसे तलाशने की बहुत जरूरत है. सैफ ने कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है कि फिल्म संस्थानों के और लोग भी इस बार खुलकर सामने आए हैं.

मंसूर अली खान पटौदी (Mansoor Ali Khan Pataudi) और शर्मिला टैगोर (Sharmila Tagore) के बेटे और बॉलीवुड अभिनेता सैफ अली खान (Saif Ali Khan) अपने खुशमिजाज अंदाज और अभिनय के लिए जाने जाते हैं. सैफ अली खान (Saif Ali Khan) ने अपने अब तक के करियर में एक से बढ़कर एक फिल्में दी हैं. सैफ अली खान (Saif Ali Khan) आखिरी बार अलाया फर्नीचरवाला के साथ फिल्म 'जवानी जानेमन' और अजय देवगन और काजोल के साथ 'तान्हाजी: द अनसंग वॉरियर' में नजर आए थे. इस फिल्म में सैफ अली खान (Saif Ali Khan) ने नेगिटिव रोल को बखूबी निभाया और फैंस की तारीफें भी अपने नाम कीं. वहीं जल्द ही सैफ सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आखिरी फिल्म 'दिल बेचारा' में नजर आएंगे.