रजनीकांत ने CAA को लेकर तोड़ी चुप्पी, बोले- अगर इससे मुस्लिमों को कोई खतरा हुआ तो मैं..

Feb 05 2020

रजनीकांत ने CAA को लेकर तोड़ी चुप्पी, बोले- अगर इससे मुस्लिमों को कोई खतरा हुआ तो मैं..

नई दिल्‍ली: साउथ के सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) बीते कुछ दिनों से बेयर ग्रिल्स के साथ अपनी शूटिंग को लेकर खूब सुर्खियां बटोर रहे थे. लेकिन हाल ही में उन्होंने सीएए को लेकर अपनी चुप्पी तोड़ी है, साथ ही नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) पर भी बयान दिया है, जिसने सबका खूब ध्यान खींचा है. बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर लगातार देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन जारी है. खासकर दिल्ली के शाहीन बाग में लोगों ने बीते कई दिनों से इस कानून के खिलाफ प्रदर्शन जारी रखा है. वहीं, रजनीकांत ने सीएए पर बयान देते हुए कहा कि अगर यह कानून मुस्लिमों के खिलाफ हुआ तो मैं इसके विरोध में सबसे पहले खड़ा होउंगा.
तमिल सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) ने सीएए (Citizenship Amendment Act) पर बयान देते हुए कहा, "नागरिकता संशोधन कानून अपने देश के नागरिकों पर कोई प्रभाव नहीं डालेगा. अगर मुस्लिमों पर इसका असर हुआ तो मैं इसके खिलाफ खड़ा होने वाला पहला व्यक्ति रहूंगा. एनपीआर केवल बाहरी व्यक्तियों के बारे में जानने के लिए है. यह स्पष्ट किया जा चुका है कि एनआरसी अभी तक तैयार नहीं हुआ है." उन्होंने अपने बयान में कहा कि विभाजन के बाद जिन मुस्लिमों ने भारत में रुकने का फैसला किया, उन्हें देश से बाहर कैसे भेजा जाएगा? इसके अलावा रजनीकांत ने आरोप लगाया कि कुछ राजनैतिक दल अपने निजी स्वार्थ के लिए सीएए के खिलाफ लोगों को भड़का रहे हैं.
बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के तहत अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान के हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई अवैध प्रवासियों को नागरिकता प्रदान की जाएगी. इस कानून को लेकर दिल्ली से लेकर उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्यप्रदेश, बिहार, बंगाल, असम और बेंगलूरू में भी खूब विरोध प्रदर्शन हुए. वहीं, रजनीकांत (Rajinikanth) की बात करें तो आखिरी बार तमिल सुपरस्टार दरबार में नजर आए हैं. उनकी इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर खूब धमाल मचाया. इसके अलावा रजनीकांत बांदीपुर टाइगर रिजर्व पार्क में बेयर ग्रिल्स के साथ अपनी शूटिंग को लेकर भी काफी चर्चा में रहे.